गैंगस्टर मन्या सुर्वे मेरा ममेरा भाई था: नाना पाटेकर

 
गैंगस्टर मन्या सुर्वे मेरा ममेरा भाई था: नाना पाटेकर
पिंपरी। सँवाददाता :  कलारंग सांस्कृतिक कला संस्था, पिंपरी चिंचवड की 21वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में चिंचवड के  प्रा. रामकृष्ण मोरे प्रेक्षागृह में जाने- माने अभिनेता नाना पाटेकर के प्रकट साक्षात्कार का कार्यक्रम संपन्न हुआ। प्रसिध्द साक्षात्कारकार व संवादक समीरन वालवेकर ने यह साक्षात्कार किया, जिसमें नाना अपने जीवन से जुड़े कई पहलुओं पर प्रकाश डाला। फिल्मों में अपराधी की भूमिका निभाने से जुड़े एक सवाल के जवाब में नाना ने खुलासा किया कि कुख्यात गैंगस्टर मन्या सुर्वे (एनकाउंटर में मारा गया) उनका ममेरा भाई था।
अभिनय के शुरुआती दौर में नाना ने काफी निगेटिव भूमिका निभाई थी, उनकी कुछ फिल्मों की क्लिप भी यहां दिखाई गई। इसके बाद जब उनसे पूछा गया कि क्या रियल लाइफ में कभी वे किसी अपराधी से मिले हैं? इसके जवाब में नाना ने खुलासा किया कि, गैंगस्टर मन्या सुर्वे उनका ममेरा भाई था। मेरे मामा औऱ उनके बेटे आपराधिक गतिविधियों में लिप्त थे। इसलिए मेरी मां हमें उनसे दूर मुरुड में ले गई। आपराधिक प्रवृत्ति के बारे में उन्होंने कहा कि, हिंसा में शोर नहीं होता, वह शांत रहती है। जो सही में अपराधी रहता है वह शांत होता है। वह कभी किसी को बोलकर नहीं मारता। कोई अशिक्षित अपराधी बने तो कोई बात नहीं, मगर यदि कोई सुशिक्षित अपराधी बन जाय तो वह काफी खतरनाक होता है, क्योंकि वह सुशिक्षित होता है काफी विचारपूर्वक अपराध करता है। एक अन्य सवाल के जवाब में अभिनेता ने राष्ट्रवादी कांग्रेस के सुप्रीमो शरद पवार को अपना ‘हीरो’ और राजनीति का चाणक्य और चंद्रगुप्त दोनों बताया।
पिंपरी चिंचवड शहर से नाना पाटेकर का पुराना नाता है। कभी वे कंस्ट्रक्शन कंपनी में मुकादम हुआ करते थे। तब शहर के कद्दावर नेता आजमभाई पानसरे के पिता स्व फकीरभाई पानसरे के कंस्ट्रक्शन साइट पर मजदूरों को वेतन बांटने के लिए वे यहां आते थे। पानसरे के साथ उनके अच्छे ताल्लुकात थे, यह भी नाना ने एक जवाब में कहा। इस कार्यक्रम में सामाजिक कार्यकर्ता नरेंद्र चुग, शारदा मुंडे, स्वातंत्र्यवीर सावरकर मंडल, लेखक सोपानराव खुडे, चित्रकार सुनील शेगावकर, लेखक जालिंदर कांबळे, अमृता ओंबले (नाट्यअभिनेत्री) को पिंपरी चिंचवड कलारंग पुरस्कार से सन्मानित किया गया। इस मौके पर डॉ. डी.वाय .पाटिल यूनिवर्सिटी के कुलपति डॉ. पी. डी. पाटील, विधायक लक्ष्मण जगताप, महेश लांडगे, राज्य लेखा समिति अध्यक्ष सचिन पटवर्धन, प्राधिकरण के अध्यक्ष सदाशिव खाडे, उपमहापौर तुषार हिंगे, नगरसेविका अनुराधा गोरखे, अखिल भारतीय नाट्य परिषद की पिंपरी चिंचव़ड शाखा के अध्यक्ष भाऊसाहेब भोईर, कलारंग संस्थेचे अध्यक्ष अमित गोरखे, मधुकर बाबर, उमा खापरे आदि मंच पर उपस्थित थे।

वेब से