खाई में गिरने से मशहूर पर्वतारोही अरुण सावंत की मौत

 
खाई में गिरने से मशहूर पर्वतारोही अरुण सावंत की मौत
पुणे। सँवाददाता : मशहूर हिल स्टेशन लोनावला के ड्यूक्स नोज की सफल चढ़ाई करने वाले पहले पर्वतारोही अरुण सावंत की करीबन 550 फीट गहरी खाई में गिरने से दर्दनाक मौत हो गई। शनिवार की सुबह हरिश्चंद्र गड परिसर में यह हादसा हुआ। माकड़नाल पहाड़ी की चढ़ाई के दौरान उनके साथ अन्य तीन पर्वतारोही भी थे। स्थानीय लोगों की मदद से उन्हें सकुशल बाहर निकाला गया मगर सावंत की मौके पर ही मौत हो गई। इस घटना से पर्वतारोहण प्रेमियों में शोक व्याप्त हो गया है।
हाथ आयी जानकारी के अनुसार, 30 पर्वतारोहियों का एक यूनिट शनिवार की सुबह से हरिश्चंद्र गड से माकडनाल पहाड़ी पर चढ़ाई करने पहुंचा था। अरूण सावंत इस यूनिट को लीड कर रहे थे। कोकणकड से रोप बोल्ड करने की कोशिश के दौरान फॉल हो गया और सावंत करीबन 550 फीट गहरी खाई में गिर गए। चट्टानों पर गिरने से उनकी मौके पर ही मौत हो गई। उनकी लाश छिन्नविछिन्न स्थिति में मिली। महाराष्ट्र के सबसे पुराने और अनुभवी ट्रैकर के रूप में परिचित अरुण सावंत लोनावला की ड्यूक्स नोज पहाड़ी की चढ़ाई की मुहिम को सफल बनानेवाले पहले पर्वतारोही हैं। सह्याद्रि में ट्रैकिंग के लिए सबसे लोकप्रिय साबित सांधण वैली, कोकणकडा रैपलिंग , थिटबी वॉटरफॉल रॅपलिंग जैसी जगहों को खोज निकालने वालों में वे शामिल थे।

वेब से