ढाई साल की मासूम का सफल लीवर ट्रांसप्लांट, मां ने बेटी को दे दिय

 
ढाई साल की मासूम का सफल लीवर ट्रांसप्लांट, मां ने बेटी को दे दिया अपना लीवर

डेक्कन : समाचार ऑनलाइन – कराड़ की रहने वाले ढाई वर्षीय बच्ची का सह्याद्रि हॉस्पिटल में सफल लीवर ट्रांसप्लांट किया गया. उम्र के पहले ही वर्ष में वह लीवर की दुलर्भ से बीमारी से ग्रसित हो गई थी. खास बात यह है कि बेहद जटिल स्थिति में भी डॉक्टरों की टीम ने सफलतापूर्वक लीवर ट्रांसप्लांट किया. लड़की की नाजूक हालत व मेडिकल जटिलता के कारण यह ऑपरेशन करीब 14 घंटे तक चला.

लड़की की उम्र ढाई साल और वजन मात्र 5.9 किलो था
खास बात यह है कि जब लड़की को हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था तब लड़की की उम्र ढाई साल और वजन मात्र 5.9 किलो था. लीवर खराब होने के साथ किडनी के खराब होने का भी खतरा, लीवर कैंसर होने के लक्षण व ट्रांसप्लांटेशन के बाद नये लीवर के काम करने में होने वाली दिक्कतें जैसी कई परेशानियों के बावजूद लीवर ऑपरेशन विशेषज्ञ, पेडियाट्रिक इंटेंसिवीस्ट, पेडियाट्रिक हेपेटोलॉजिस्ट और इन्फेक्शियस डिजिज स्पेशालिस्ट के भारी-भरकम टीम के निरंतर अथक प्रयास की वजह से बच्ची की हालत में सुधार हो रहा है. ऑपरेशन के बाद चार सप्ताह में उसे रिलीज कर दिया गया और अब उसकी नियमित रूप से देखभाल की जा रही है.

टायरोसिनेमिया जैसी दुलर्भ बीमारी का पता चला
इस संबंध में अधिक जानकारी देते हुए सह्याद्रि हॉस्पिटल के लीवर एंड मल्टीऑर्गन ट्रांसप्लांट्स डिपार्टमेंट के प्रमुख डॉ. बिपिन विभुते ने बताया कि इस बच्ची को टायरोसिनेमिया जैसी दुलर्भ बीमारी का पता चला. समय पर इलाज नहीं करने पर लीवर के खराब होने के साथ किडनी फेल होने का भी खतरा पैदा हो गया. लेकिन लीवर ट्रांसप्लांट के लिए उसके परिवार की आर्थिक स्थिति वैसी नहीं थी. उसकी मां का लीवर लेकर बच्ची में ट्रांसप्लांट किया गया है. इस बच्ची को घर भेजे जाने के बाद भी नियमित रूप से खून की जांच और इलाज के लिए हॉस्पिटल की तरफ से मदद दी जा रही है और उसे हम जारी रखेंगे.

ऑपरेशन सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ
सह्याद्रि हॉस्पिटल के यूनिट प्रमुख डॉ. केतन आपटे ने कहा कि जटिल मेडिकल स्थिति में बहुआयामी प्रयास और अपडेटेड इलाज की सुविधा के कारण ऑपरेशन सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ. इसके लिए मैं डॉक्टरों की टीम का अभिनंदन करता हूं. विशेषकर सह्याद्रि हॉस्पिटल, नगर रोड के मिशन प्रेरणा की पहल के तहत छोटे बच्चों के ट्रांसप्लांट के लिए समर्पित है. इस बच्ची के इलाज में प्रवीण अग्रवाल फाउंडेशन संस्था के संस्थापक प्रवीण अग्रवाल और ट्रांसप्लांट हेल्प द पुअर फाउंडेशन ने महत्वपूर्ण सहयोग किया.

visit : npnews24.com

वेब से