IAS अधिकारियों के बहाने महाराष्ट्र सरकार पर भड़के केंद्रीय मंत्री गडकरी, कहा

 
IAS अधिकारियों के बहाने महाराष्ट्र सरकार पर भड़के केंद्रीय मंत्री गडकरी, कहा
 

नागपुर : समाचार ऑनलाइन – केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्री ने पहली बार महाराष्ट्र सरकार पर हमला करते हुए कहा है कि पैसों की कोई कमी नहीं है, जो कुछ कमी है वह सरकार में काम करने वाली मानसिकता है. निर्णय लेने में जो हिम्मत चाहिए वह नहीं है. नितिन गडकरी एक कार्यकर्म में आईएएस  अधिकारियो के बहाने मौजूदा सरकार पर हमला बोल रहे थे.  वह नागपुर के विश्वेशरैया राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संसथान के हीरक जयंती के उद्घाटन समारोह में बोल रहे थे. उन्होंने कहा, सच बताता हूं पैसों की कोई कमी नहीं है, नकारात्मक रवैया है, जो निर्णय करने में हिम्मत चाहिए वह नहीं है.

उन्होंने कहा कि दो दिन पहले मैं एक बहुत बड़े फोरम में था. तो वह कह रहे थे कि हम शुरू करेंगे। मैंने पूछा क्या  शुरू करेंगे ? आपकी शुरू करने की ताकत होती तो आप  आईएएस  अधिकारी बनकर यहां क्यों बैठे होते। आप जाकर कोई बड़ा बिज़नेस कर सकते थे, आपका काम नहीं है ये।  जो कर सकता है उसकी मदद करो, आप इस विवाद में मत पड़ो. वी आर ओनली फेसिलिटर।
गडकरी बोले लक्ष्य मुश्किल लेकिन असंभव नहीं  नितिन गडकरी ने  शनिवार को कहा कि 2024 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनमी बनाने का लक्ष्य मुश्किल है लेकिन असंभव नहीं। घरेलु उत्पाद बढाकर और आयात पर निर्भरता कम करके इस लक्ष्य को हासिल किया जा सकता है.

वेब से