आख़िर क्या मतलब होता है गैस सिलेंडर पर लिखे नंबर का ?

 
आख़िर क्या मतलब होता है गैस सिलेंडर पर लिखे नंबर का ?

आपने कभी गौर किया है क्या गैस सिलेंडर पर कुछ नंबर लिखे होते है। गैस सिलेंडर हमारी रोज़मर्रा की ज़िन्दगी का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसके बिना खाना पकाना बहुत मुश्किल है। दोस्तों क्या अपने कभी गैस सिलेंडर लेते वक्त उस पर लिखे नंबर के बारे में ध्यान दिया है, आखिर क्या होता है इस नंबर का मतलब, यह सिलेंडर पर क्यों दिया जाता है। आज हम आपकी इस नंबर के बारे में बताएंगे।

गैस सिलेंडर पर रेगुलेटर के पास तीन पट्टियाँ बनी होती है जिसको हम तीन छोटे पिलर्स भी कह सकते है। उन्ही में से किसी एक पट्टी पर A, B, C, D के साथ कुछ नंबर भी लिखा रहते है। गैस कम्पनियां इस अल्फाबेट्स को 12 महीनो के हिसाब से 4 भागो में बाँट देती है।

सिलेंडर पर लिखा यह कोड या लेटर सिलेंडर की टेस्टिंग के महीने को दर्शाते है। जैसे A जनवरी से मार्च तक, B अप्रैल से जून तक, C जुलाई से सितंबर तक और डी अक्टूबर से दिसंबर तक होता है। वहीं इस लेटर के आगे लिखा नंबर किस साल में टेस्टिंग होनी चाहिए उसके ईयर को दर्शाता है।
आख़िर क्या मतलब होता है गैस सिलेंडर पर लिखे नंबर का ?

उदाहरण के लिए B-17 का मतलब है की गैस सिलेंडर अप्रैल से जून 2017 टेस्टिंग के लिए भेजा जाना चाहिए या गैस सिलेंडर का टेस्टिंग पीरियड अप्रैल से जून 2017 तक है। इस डेट के बाद अगर गैस सिलेंडर का उपयोग किया जाता है तो सिलेंडर का वॉल्व लीक तो नहीं कर रहा है ये चेक करके ले और यदि लिए गए सिलेंडर की डेट पुरानी हो तो गैस एजेंसी में जाकर गैस सिलिंडर को बदलवा भी सकते है।

वेब से