Pune Crime | पुणे में इस निजी साहूकार के खिलाफ हड़पसर पुलिस स्टेशन में और एक केस दर्ज 

पुणे (Pune News), 28 अगस्त : ब्याज पर लिए पैसे वापस करने के बाद भी ढाई लाख रुपए की वसूली (Pune Crime) करने वाले निजी साहूकार (Private Moneylender) ज्ञानेश्वर किशन पवार (Dnyaneshwar Kishan Pawar) (उम्र 42, नि – स. न. – 315, वैदुवाड़ी, हड़पसर ) को पुणे पुलिस की क्राइम ब्राँच (Pune Police Crime Branch) के एंटी एक्सटॉरशन सेल (Anti Extortion Cell) 2 की टीम ने गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है।  गिरफ़्तारी के बाद ज्ञानेश्वर पवार के खिलाफ हड़पसर पुलिस स्टेशन (Hadapsar Police Station) में एक और केस दर्ज किया गया।  इस मामले में विजयबहादुर रामशंकर पांडे (Vijaybahadur Ramshankar Pandey) (उम्र 47, नि – एनडीए रोड, शिवने, तहसील – हवेली ) ने (Pune Crime) हड़पसर पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज कराई है।

 

पुलिस सब इंस्पेक्टर सागर पोमण (Police Sub Inspector Sagar Poman) से मिली जानकारी के अनुसार शिकायतकर्ता पांडे ने निजी साहूकार ज्ञानेश्वर पवार (Private Moneylender Dnyaneshwar Pawar) से नवंबर 2018 में 1 लाख रुपए का कर्ज लिया था।  पांडे ने पवार को नवंबर 2018 से जुलाई 2021 के बीच कैश, ऑनलाइन, गूगल पे व एटीएम डिपॉजिट के जरिये 2 लाख 90 हज़ार रुपए दिए। पैसे मिलने के बाद भी आरोपी पवार पांडे को बार-बार फ़ोन पर गाली-गलौज करते हुए धमकाकर पैसे मांग रहा था।
आरोपी ने अप्रैल 2020 से जुलाई 2020 के चार महीने का 10% के हिसाब से 40 सहित कुल 1 लाख 40 हज़ार रुपए की और मांग की। पवार से मिल रही परेशानी से तंग आकर पांडे ने हड़पसर पुलिस स्टेशन (Hadapsar Police Station) में इसकी शिकायत दर्ज करा दी।
पवार के खिलाफ धारा 384, 385, 504, 506, महाराष्ट्र साहूकारी अधिनियम (Maharashtra Moneylender Act) की धारा 39 और 45 के तहत केस दर्ज किया गया है।  मामले की जांच पुलिस सब इंस्पेक्टर सागर पोमण (Police Sub Inspector Sagar Poman) कर रहे है।

 

 

 

Pune Crime | पुणे के मांजरी बु में वकील दम्पत्ति ने फ़र्ज़ी रजिस्ट्रेशन कर व्यवसायी से की 13 लाख की ठगी

Pune Crime | पुणे के चिंचवड़ स्टेशन में बिल्डर के कार्यालय के सामने कॉन्ट्रैक्टर ने की आत्महत्या ! राजेश अग्रवाल, संतोष अग्रवाल, राहुल भंडारी, अजीत गायकवाड़, अभिजीत गायकवाड़, सचिन किल्लेदार, ललित जैन सहित 8 लोगो के खिलाफ FIR