रेखा जरे हत्याकांड :  बोठे के बंगले की तलाशी, रिवॉल्वर किया गया जब्त ; लुकआउट नोटिस जारी 

अहमदाबाद, 5 दिसंबर : यशस्विनी महिला ब्रिगेड की अध्यक्षा व सामाजिक कार्यकर्ता रेखा जरे हत्याकांड के मुख्य आरोपी पत्रकार बाल बोठे के घर की शुक्रवार को पुलिस ने तलाशी ली।  इस तलाशी में रिवॉल्वर व अन्य कई सामान जब्त कर लिया गया।  यह जानकारी जिला पुलिस अधीक्षक मनोज पाटिल ने दी।  जरे हत्याकांड सामने आने  के बाद से  बोठे फरार है।  वह विदेश नहीं भागे इसलिए पुलिस ने ,एयरपोर्ट मैनेजमेंट को  बोठे को लेकर लुकआउट नोटिस जारी किया है।  ऐसे में  उसके विदेश  भागने का रास्ता बंद हो गया है।

जरे की 30 नवंबर की रात नगर-पुणे हाईवे पर जातेगांव घाट परिसर में हत्या हो गई थी। इस हत्याकांड में पुलिस ने अब तक पांच लोगों को गिरफ्तार किया है।  इन आरोपियों से मिली जानकारी के अनुसार इस हत्या की सुपारी  बोठे व सागर भिंगारदिवे  ने दी थी।  भिंगारदिवे को गिरफ्तार कर लिया गया है।  लेकिन  बोठे फरार है।  फरार होने से पहले उसने अपना मोबाइल घर में ही छोड़ दिया।  पुलिस ने उसका मोबाइल जब्त कर लिया है।   बोठे की तलाश के लिए पुलिस की पांच टीमों को विभिन्न जगह भेजा गया है।  शुक्रवार की दोपहर जांच अधिकारी अजीत पाटिल व एलसीबी टीम ने  बोठे के नगर शहर के बालिकाश्रम रोड स्थित जिद्ध बंगले की तलाशी ली।  इस दौरान पुलिस को  बोठे का रिवॉल्वर मिला।   बोठे को हथियार का लाइसेंस मिला हुआ है।  पुलिस ने अन्य कई सामान भी जब्त किये है।
कितना भी भाग ले पुलिस के जाल में फसेंगे ही

हत्याकांड के मुख्य आरोपी  बोठे की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है।  वह कहा रुक सकता है इसकी जानकारी निकाल कर पुलिस तलाश रही है।  आने वाले समय में जरुरत के अनुसार उसके बैंक अकाउंट को बंद किया जा सकता है।  फरार होने के बाद  बोठे कहा आश्रय ले सकता है इसकी जानकारी पुलिस जुटा रही है।  ऐसे में  बोठे कितना भी बाग़ ले आख़िरकार वह पुलिस के कब्जे में आएगा ये निश्चित है।
पुलिस जांच की तारीफ जरे की हत्या होने के केवल 24 घंटे में पुलिस ने उसके हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया।  इसके बाद घटना के मुख्य आरोपी का नाम सामने आया।
  बोठे  की गिरफ़्तारी के बाद सच सामने आएगा

हत्याकांड में पुलिस ने पांच आरोपियों  को गिरफ्तार किया है।  जरे की हत्या सुपारी देकर क्यों करवाई गई थी।   इसका राज अब तक सामने नहीं आया है।  गिरफ्तार सागर भिंगारदिवे ने बताया कि जरे की हत्या क्यों की गई यह जान्काइर  बोठे  को है। ऐसे में  बोठे  की गिरफ़्तारी के बाद ही हत्या की वजह सामने आ पायेगी।